Motorbike_am_01
0 Comments

Moter Bike Abhiyan – EK Bharat, Shresth Bharat


28 जनवरी, आबूरोड (निप्र)। एक भारत- श्रेष्ठ भारत का संकल्प लेकर शांतिवन से निकले बालब्रह्मचारी, राजयोगी ब्रह्माकुमार राइडर्स सात दिन में 1600 किमी की यात्रा कर वापस लौट आए। इस बीच कड़ाके की ठंड, बारिश और सर्द हवाओं के झोंके इन राजोयगी राइडर्स का उत्साह कम नहीं कर सके। अजमेर, जयपुर, दिल्ली एनसीआर होते हुए मोटर बाइक अभियान 25 जनवरी को हरियाणा के गुरुग्राम पहुंचा। रास्तेभर जगह-जगह कई क्लब और संगठनों द्वारा अभियान में शामिल राइडर्स का पुष्पवर्षा कर सम्मान किया। सात दिन में 35 कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को राजयोग मेडिटेशन, स्वर्णिम भारत निर्माण और श्रेष्ठ भारत के प्रति जागरूक कर संदेश दिया गया।
मोटर बाइक अभियान की यात्रा पूरी कर राइडर्स ब्रह्माकुमारीज मुख्यालय शांतिवन पहुंचने पर शुक्रवार को डॉयमंड हॉल में सम्मान समारोह आयोजित किया गया। बता दें कि आजादी का अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत की ओर राष्ट्रीय अभियान के शुभारंभ पर 20 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल हरी झंडी दिखाकर शांतिवन से गुरुग्राम मोटर बाइक अभियान का शुभारंभ किया था।

पहले दिन 350 किमी की दूरी तय की-
सम्मान समारोह में मोटर बाइक अभियान के व सोलर पॉवर प्रोजेक्ट के डायरेक्टर बीके जयसिम्हा भाई ने कहा कि पहले दिन 350 किमी की यात्रा पूरी कर अजमेर पहुंचे। जहां जगह-जगह स्वागत किया गया। दूसरे दिन अजमेर से जयपुर पहुंचे, जहां विभिन्न संगठनों में आयोजित कार्यक्रम में राजयोग मेडिटेशन का संदेश दिया। तीसरे दिन दिल्ली पहुंचे जहां से एनसीआर होते हुए गुरुग्राम पहुंचे, जहां भव्य समापन समारोह आयोजित किया गया। 35 से अधिक कार्यक्रम रास्तेभर में किए गए। 26 जनवरी को गुरुग्राम से निकले और 27 जनवरी शाम को शांतिवन पहुंचे।

दस साल से कर रहे हैं बाइक राइड-
फिल्म डिवीजन डिपार्टमेंट के डायरेक्टर बीके व्यंकटेश भाई ने कहा कि हम लोग राजयोग मेडिटेशन के साथ दस साल से बाइक राइड कर रहे हैं। बाइक से लद्दाख की यात्रा भी कर चुके हैं। इस दौरान कई विषम परिस्थितियों का सामना किया लेकिन कभी हमारा हौसला कमजोर नहीं हुआ। भारतभर में 10 लाख से अधिक यूथ राइडर्स हैं। किचन विभाग के संचालक बीके राजशेखर भाई ने कहा कि एक बार हमारी टीम के राइडर्स 18 हजार फीट की ऊंचाई पर परमात्मा शिव बाबा का ध्वज लहरा चुके हैं। वहां जाकर लोगों को राजयोग मेडिटेशन का भी संदेश दिया है। भारत में राइडर्स के 5 हजार ग्रुप हैं जिन्हें जोडऩे का लक्ष्य हमारी टीम ने रखा है।

देशभर में करेंगे कार्यक्रम-
खेल प्रभाग के राष्ट्रीय समन्वयक बीके जगबीर भाई ने कहा कि शांतिवन के राइडर्स टीम ने देशभर में कार्यक्रम आयोजित करने का लक्ष्य रखा है। पांडव भवन दिल्ली की निदेशिका बीके पुष्पा दीदी ने कहा कि व्यक्ति व्यक्ति में कुछ न कुछ खूबी होती है। इसलिए हर एक से कुछ न कुछ सीख लेना चाहिए।

रंगोली बनाओ, इनाम पाओ प्रतियोगिता कल-
ब्रह्माकुमारीज के कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजय भाई ने कहा कि शांतिवन में 29 जनवरी को रंगोली बनाओ, इनाम पाओ प्रतियोगिता और लोरी गीत प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी। इसमें सभी भाई-बहन भाग ले सकते हैं। खेल प्रभाग के मुख्यालय संयोजक बीके मोहन ने सभी का आभार जताते हुए बाइक राइडर्स के हौसले और साहत की सराहना की। मधुरवाणी ग्रुप ने देशभक्ति गीत की प्रस्तुति दी। मंच संचालन बीके चंदा बहन ने किया।

राइडर्स की टीम में ये रहे शामिल-
मोटर बाइक अभियान टीम में मुख्य रूप से बीके जयसिम्हा भाई, बीके व्यंकटेश भाई, बीके राजशेखर भाई, बीके जगबीर भाई, बीके शक्तिराज भाई, बीके प्रदीप भाई, बीके मंजुनाथ भाई, बीके प्रीतम भाई, बीके राजेंद्र भाई, बीके ऋषि भाई, बीके श्रीधर भाई और बीके पराशुमन भाई शामिल रहे।

फोटो-  शांतिवन के डायमंड हॉल में आयोजित समारोह में मोटर बाइक अभियान के तहत यात्रा पूरी कर लौटे राइडर्स का सम्मान किया गया।

Choose your Reaction!
Leave a Comment

Your email address will not be published.