Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

Eng

प्रॉफिटेबल कार्मिक बैलेंस

प्रॉफिटेबल कार्मिक बैलेंस

अगर हम सभी अपने कर्मों की बैलेंस शीट का ऑडिट करें तो, अपने सभी विचारों, बोल और व्यवहार को केलकुलेट करके सही और गलत के आधार पर परख सकते हैं। हम सभी चाहते हैं कि, हमारे कर्म अच्छे हों जो हमें प्रॉफिट दें, क्योंकि हमारे कर्मों की बैलेंस शीट डिसाइड करती है कि, हम अपने कर्मों से लाभ लेते हैं या नुकसान उठाते हैं। हमारा हर विचार, बोल और कर्म एक एक्शन है। हम सभी अपने द्वारा किए गए, कर्मों को अपनी कार्मिक बैलेंस शीट के द्वारा चेक कर सकते हैं। प्रॉफिटेबल बैलेंस शीट हमारे अच्छे कर्मों का परिणाम है, अनप्रॉफिटेबल बैलेंस शीट हमारे द्वारा किए गए, हर गलत कर्म का परिणाम है।

अपने कार्मिक एकाउंट को बेहतर बनाने के लिए, नीचे बताए गए स्टेप्स का पालन करें –

  1. हमारा हर विचार, बोल और किए गए कार्य हमारे कर्म हैं। जबकि परिस्थितियाँ और लोगों के व्यवहार उनके परिणाम हैं, और यही हमारा भाग्य है।
  2. कोई भी कर्म चुनते या करते समय, उसके परिणामों को भी समझें। हमेशा याद रखें कि, लोगों के कर्म उनका भाग्य लिखते हैं। ऐसे ही हमारे कर्म हमारा भाग्य लिखते हैं। परिस्थितियों की परवाह किए बिना, हमेशा सही कर्म चुनें।
  3. एक दूसरे से बातें शेयर करें, देखभाल करें, आपस में सहयोग करें, दूसरों को क्षमा करें, सबके साथ खुशियां बिखेरें। इन सबके बदले, भले ही हमें डिजायर्ड रिजल्ट न मिलें, लेकिन अपने कर्मों को नेगेटिव न होने दें।
  4. हमारे साथ आज जो कुछ भी हो रहा है वह हमारे पास्ट के कर्मों का परिणाम है। इसे स्वीकार करते हुए स्वयं को मजबूत रखें। पिछले कर्मों का हिसाब किताब चुकता कर, एकाउंट सेटल करने के लिए अच्छे कर्म ही करें।

अपने कर्मों के हिसाब-किताब पर ध्यान देने और अपने कार्मिक प्रॉफिट को चेक करने के लिए, नीचे बताए गए स्वाभिमान को हर रोज दोहराएं।

मैं बुद्धिमान हूँ … मैं सबके प्रति शुद्ध इरादे रखता हूं … सही विचार रखता हूँ… सही व्यवहार करता हूं … मैं जीवन के हर सीन में…….सबको प्यार देता हूँ … खुशियाँ बिखेरता हूँ … भले ही परिस्थितियाँ सुखद न हों … पर मेरे कर्म सही हैं … भले ही लोग मेरे लिए अच्छे न हों… यह उनके कर्म हैं… मैं केवल अपने कर्म पर फोकस करता हूं… धैर्य… शांति…. मेरे पॉजिटिव कर्म हैं… और मैं अपने कर्मों की बैलेंस शीट को चेक  करता रहता हूं… मेरा हर कर्म निःस्वार्थ भाव से प्रेरित है।

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए