Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

Eng

हमारे वायब्रेशन शब्दों से ज्यादा गहरा प्रभाव डालते हैं

November 15, 2023

हमारे वायब्रेशन शब्दों से ज्यादा गहरा प्रभाव डालते हैं

हम अक्सर देखते हैं कि लोग कई बार हमारी राय को स्वीकार नहीं करते जबकि यह उनके लिए फायदेमंद होती है। यदि वे बदलना नहीं चाहते, तो उनका अहंकार हमारी बातों को मानने से रोक सकता है। हालाँकि, थॉट कम्युनिकेशन; बोल और कर्मों द्वारा किए गए कम्युनिकेशन से कहीं अधिक तेज़ और शक्तिशाली होता है। तो यदि हम वही राय अपने शुद्ध विचारों के माध्यम से रेडीएट करें, तो लोग हमारे वायब्रेशन के प्रभाव को निश्चित अनुभव करेगें।

  1. कभी-कभी लोग अपने अहंकार के कारण हमारी राय, सलाह या सुझाव को स्वीकार नहीं कर पाते हैं, या फिर कभी-कभी उनमें हमारी बातों पर अमल करने की शक्ति की भी कमी हो सकती है। ऐसे में उनसे बहस न करें, उनकी आलोचना न करें और नाही उनके सामने जिद करें, बल्कि उन पर सकारात्मक प्रभाव डालने के लिए अपनी थॉट पावर का उपयोग करें।
  2. याद रखें कि, आप किसी के लिए जो भी थॉट क्रिएट करते हैं, वह एक एनर्जी है जो हमसे उनतक वायब्रेट होती है। ये एनर्जी स्थान और समय को भी पार करके उस व्यक्ति तक पहुंचकर उसे प्रभावित करती है।
  3. मेडीटेशन के दौरान, आप।जिस व्यक्ति में बदलाव देखना चाहते हैं उन्हें अपने मन की स्क्रीन पर देखें, और उनके लिए शुद्ध, सकारात्मक और शक्तिशाली विचारों के वायब्रेशन रेडीएट करें। यह वायब्रेशन उनके स्वास्थ्य, खुशी, आदतें, करियर, रिश्ते नाते और फाइनेंस आदि किसी भी चीज़ से संबंधित हो सकते हैं।
  4. आप पूरे दिन भी लोगों के लिए शक्तिशाली विचार क्रिएट कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, किसी के स्वास्थ्य के बारे में थॉट क्रिएट करें कि – वह खुशमिजाज आत्मा है। उनके शरीर की प्रत्येक कोशिका; शक्ति और पवित्रता से भरी हुई है। इलाज से उनका स्वास्थ्य अच्छा हो रहा है। इस तरह से आपके वायब्रेशन उनके एनर्जी के ऑरा को शाक्तिशाली बनाकर किसी भी बीमारी से लड़ने के लिए सशक्त बनाएंगे।

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए