Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

EN

हर कदम पर दृढ़ निश्चयी और सकारात्मक रहें (भाग 1)

January 12, 2024

हर कदम पर दृढ़ निश्चयी और सकारात्मक रहें (भाग 1)

हमारे जीवन का एक बहुत जरूरी और प्रभावशाली पहलू जिसे हम ज्यादा महत्व नहीं देते और इस बात पर ध्यान नहीं देते कि, जीवन के हर कदम पर हम कितने डिटरमाइंड हैं और किस तरह ये शक्ति; जीवन की अलग अलग समस्याओं को हल करने में हमारी मदद करती है। हम सभी ने यह सुना है कि, विश्वास से पर्वत भी हिलाए जा सकते हैं और ये विश्वास हमारे दृढ़ निश्चय से ज्यादा कुछ नहीं है जिसे हम स्वयं क्रिएट करते हैं और साथ ही स्वयं को नेगेटिव और अननेसेसरी थॉट्स से फ्री रखने की कोशिश भी करते हैं। और ऐसा करते हुए हम अपने मन को शक्तिशाली पॉजिटिव थॉट्स से भरपूर कर लेते हैं क्योंकि इनके द्वारा ही हम अपने जीवन की सभी समस्याओं को हल करने में सफलता प्राप्त करते हैं।

 

डिटरमिनेशन यानि दृढ़ निश्चय माना कि हमारे मन की आंतरिक स्थिति, बाहरी परिस्थितियों से ज्यादा शक्तिशाली है, चाहे वे कितनी भी नेगेटिव क्यों न हो। और हमारे मजबूत रहने से भी सिचुएशन का प्रभाव हमारे ऊपर नहीं पड़ता और अंततः वो कमजोर पड़ जाती है और बहुत कम समय में समाप्त हो जाती है। इसलिए सिचुएशन से अनेक प्रकार से लड़ने की बजाए, हमें अपनी आंतरिक शक्ति को स्ट्रॉन्ग बनाकर, जीवन के अलग-अलग सीन्स को अपने अनुसार बदलने की कोशिश करते रहना चाहिए। अक्सर ये देखा जाता है कि सिचुएशंस वैसी नहीं होती जैसी हम चाहते हैं और हम लगातार उन्हें अपनी इच्छानुसार बनाने की कोशिश करते रहते हैं। और इस प्रोसेस में हम कभी सफल और कभी असफल हो जाते हैं, क्योंकि हमारे मन की आंतरिक स्थिति और डिटरमिनेशन पावर इतनी शक्तिशाली नहीं होती। इसलिए खुद की शक्तिशाली स्थिति बनाने के लिए हमें अपनी आंतरिक शक्ति या अपने मन को इतना शक्तिशाली बनाना होगा, जिससे कठिन से कठिन परिस्थितियों का प्रभाव हम पर न पड़े। हमारी मानसिक स्थिति हमारी शारीरिक स्थिति या हमारे रोल, पोजीशन की ताकत से ज्यादा शक्तिशाली है क्योंकि मन की शक्ति से समस्याएं न सिर्फ थोड़े ही समय में बदल सकती है बल्कि पॉजिटिव भी बन सकती है।

(कल जारी रहेगा)

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए

अपने पास्ट से सीखें

अपने पास्ट से सीखें

क्या आपने अपनी पास्ट लाइफ में की गई गलतियों से कुछ सीखने की उम्मीद से कभी झांकने की कोशिश करते हुए आखिर में, स्वयं को

Read More »
एक्सपेक्टेशन न करें

एक्सपेक्टेशन न करें

आप सभी ने अपने जीवन में, कभी न कभी ये अनुभव किया होगा कि, आप अपने साथ काम करने वाले कलीग को उसके प्रोजेक्ट पूरा

Read More »