Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

Eng

किसी अपने के जाने के बाद कैसे संभलें

July 7, 2024

किसी अपने के जाने के बाद कैसे संभलें

इससे जुड़े 5 स्टेप्स तो जानें:

 

  1. स्वयं को और अपने प्रियजन को एक आत्मा/ शाइनिंग स्टार के रूप में अनुभव करें- जिस पल आपके परिवार में अचानक किसी की मृत्यु हो जाती है और आप सभी इससे उबर नहीं पाते, ऐसे समय में स्वयं को ये लाइंस प्रतिदिन याद दिलाएं कि- हम और वह (प्रियजन जो हमें छोड़कर चले गए हैं), सुंदर और विशेष आत्माएं हैं… हम वायब्रेशन द्वारा आपस में जुड़े हुए हैं…. हम उस आत्मा तक शांति, प्रेम और शक्ति के वायब्रेशन रेडिएट करते हैं… वो आत्मा अपने नए परिवार और वातावरण में खुश है…
  2. अपने घर में एक पॉजिटिव कलेक्टिव कॉन्शियसनेस पैदा करें- यदि आपके थॉट्स शक्तिशाली और ज्ञानपूर्ण नहीं हैं तो किसी अपने को खोने से आपको और आपके परिवार को बहुत अधिक दुख महसूस हो सकता है। इसलिए पूरे परिवार के लिए अपनी आध्यात्मिक इम्यूनिटी और आध्यात्मिक शक्ति का निर्माण करना बहुत महत्वपूर्ण है। परिवार द्वारा एक साथ सकारात्मक ज्ञान पढ़ने और सुनने से सभी को सशक्त बनने में मदद मिलती है।
  3. अपनी बातचीत को सकारात्मक और सशक्त बनाएं- एक परिवार के सदस्य के रूप में, अपने परिवार की भावनात्मक जिम्मेदारी लेना बहुत महत्वपूर्ण है। सुनिश्चित करें कि, कोई भी निराशाजनक और उदासीपूर्ण नकारात्मक बातचीत न हो। जब आपके शब्द अपने लिए, अपने परिवार और प्रियजनों के लिए पॉजिटिव और पॉवरफुल होंगे, तो इससे परिवार में एक-दूसरे के लिए सपोर्ट के वायब्रेशन पैदा होंगे।
  4. किसी के भी दर्द को अब्जॉर्ब न करें- मृत्यु के बाद पैदा हुए नकारात्मक माहौल में, परमात्मा के साथ जुड़े रहना बहुत महत्वपूर्ण है और साथ ही, परिवार के अन्य सदस्यों और दोस्तों के दर्द को आत्मसात करके नकारात्मक विचार पैदा न करें। परिवार जितना एक-दूसरे के साथ और हर पल परमात्मा के साथ रहेगा, उतना ही अधिक स्टेबल रहेगा।
  5. भविष्य के लिए एक सकारात्मक दृष्टिकोण बनाएं- जब किसी प्रियजन के लॉस से परिवार वाले बाहर नहीं निकल पा रहे हों, तो हर किसी के लिए आगे बढ़ने और खुद को पॉजिटिव एक्शंस और आदतों में व्यस्त रखने और सकारात्मक लोगों के साथ बातचीत करना बहुत महत्वपूर्ण है। पॉजीटिव एनर्जी का उपयोग और आपस में एक्सचेंज करने से, जीवन के नेगेटिव सीन में भी आत्मा की क्षमताओं और शक्तियों को बनाए रखता है।

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए