Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

Eng

परमात्म ज्ञान को प्रतिदिन कैसे स्टडी करें?

February 27, 2024

परमात्म ज्ञान को प्रतिदिन कैसे स्टडी करें ?

परमात्मा ज्ञान के सागर, सर्वोच्च, ज्ञानी और शक्तिशाली आत्मा हैं। क्योंकि उनका अपना कोई शरीर नहीं होता और वो जन्म-मरण के चक्र में नहीं आते हैं, इसलिए वे इस सृष्टि चक्र को बहुत अच्छे से जानते हैं। इस धरा पर ज्ञान देने के लिए परमात्मा कलयुग यानि आयरन ऐज के अंत में आते हैं और इस ज्ञान से वो संसार की सभी आत्माओं को पवित्र बनाते हैं और सतयुग या गोल्डन ऐज की स्थापना करते हैं। आइए, नीचे शेयर की गई 5 टिप्स के द्वारा समझें कि, प्रतिदिन परमात्म ज्ञान को कैसे पढ़ें: 

 

  1. स्पिरिचुअल स्टडी से पहले कुछ देर मेडिटेशन करें- ये जरूरी है कि, स्पिरिचुअल ज्ञान को सुनने या पढ़ने से पहले, कुछ मिनट के लिए मेडिटेशन का अभ्यास किया जाए। इससे हमारे थॉट्स की तीव्रता कम हो जाती है और एकाग्रता बढ़ जाती है।
  2. ज्ञान को पढ़ने के उद्देश्य को दोहराएं– मेडिटेशन के बाद स्वयं से कहें कि, परमात्मा मुझे पढ़ा रहे हैं और इस ज्ञान के द्वारा; मैं आत्मा पवित्र बन रहीं हूँ और परमात्मा के गुण और शक्तियां मेरे अन्दर समा रही हैं, इसलिए मुझे पूरी शारीरिक और मानसिक अलर्टनेस से ज्ञान को सुनना है।
  3. पढ़ते समय परमात्मा की समीपता को महसूस करना- परमात्मा के ज्ञान को आत्मसात करते समय, उन्हें अपने पिता और शिक्षक के रूप में अनुभव करें और उनके द्वारा कहे गए हर शब्द के पीछे; उनके वायब्रेशन और फीलिंग्स को स्वयं में समाएं, याद रखें कि, ज्ञान को सिर्फ सुनना या पढ़ना नहीं है बल्कि आत्मसात करना है। 
  4. ज्ञान के पॉइंट्स को नोटबुक में लिखें– जरूरी है कि, ज्ञान के उन पॉइंट्स को लिख लिया जाए, जिन्हें हम दिनभर रिवाइज करना चाहते हैं या जिनके बारे में हम गहराई से विचार सागर मंथन करके, अपने कार्य व्यवहार में एप्लाई करना चाहते हैं। 
  5. अंत में परमात्मा का शुक्रिया करें- परमात्मा द्वारा दिए गए ज्ञान का अध्ययन करने के बाद, उनकी प्यारी-प्यारी ब्लेसिंग ले, दिल से उनका धन्यवाद करें और उनसे वादा करें कि, आज आपने जो भी पढ़ाया है, हम हर बात को फॉलो करेंगे और कभी भी उनका हाथ नहीं छोड़ेंगे।

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए