Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

EN

सकारात्मक जीवनशैली के लिए 10 स्टेप्स (भाग 2)

September 14, 2023

सकारात्मक जीवनशैली के लिए 10 स्टेप्स (भाग 2)

क्या आप जानते हैं कि, इस दुनिया की कठिन परिस्थितियों और लोगों के बीच रहते हुए भी एक शाक्तिशाली और नियंत्रित मन जिसमें एक भी विचार अनिश्चितता और निराशा वाला न हो, को हासिल किया जा सकता है, बस हमें अपने  विचारों पर ध्यान देने की ज़रूरत है जोकि हमारे  व्यक्तित्व और कर्मों की नींव हैं। हम आत्माओं के ओरिजनल गुण; सुख, शांति, आनंद, प्रेम, पवित्रता, शक्ति और ज्ञान हैं, जिनसे आत्मा परिपूर्ण है। लेकिन जैसे-जैसे आत्माएँ कई जन्मों के चक्र में आती हैं तो इन गुणों की एनर्जी डिस्चार्ज होती जाती है और फलस्वरूप इन गुणों में कमी के चलते हमारे सकारात्मक व्यक्तित्व की क्वॉलिटी कम हो गई है। और इनके बजाय हम क्रोध, अहंकार, लालच, वासना, भय, मोह, ईर्ष्या, असुरक्षा, आत्मसम्मान की कमी, प्रतिशोध और नफरत जैसी नकारात्मक कमजोरियों से भर गए हैं। इस सबसे आत्मिक बल और भी कम हो गया है और नकारात्मक परिस्थितियां हमें बहुत आसानी से और बिना रुके प्रभावित करती रहती हैं।

आइए, हर परिस्थिति में अपनी निरंतर सकारात्मकता का अनुभव करने के लिए कुछ तरीकों पर प्रकाश डालें और सकारात्मक जीवनशैली के लिए प्रतिदिन 10 कदम उठाएं:

  1. हर सुबह सफलता और दृढ़ संकल्प से संबंधित एफरमेंशन दोहराएं और पूरे दिन अपने मन को इसके बारे में याद दिलाते रहें।
  2. पूरे दिनभर में हुई गलतियों की एक चेक लिस्ट रोज रात को बनाएं और अगले दिन उन्हें दोहराने से बचें। ये कमज़ोरियाँ आत्मा की शक्ति को कम कर देती हैं।
  3. आत्म के ओरिजिनल गुणों में से हर दिन एक गुण चुने और प्रैक्टिस में लाऐं। अपने इन्हीं गुणों को मिलने वाले हर व्यक्ति को रेडिएट करें, और उन्हें आत्मिक स्वरूप में भरपूरता का अनुभव कराएं।
  4. इसके साथ ही, हर व्यक्ति की कम से कम एक गुण, विशेषता, कौशल या प्रतिभा को देखें। और उनकी कमज़ोरियों को अपने मन और आँखों से देखते हुए भी न देखें।

(कल भी जारी रहेगा…)

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए