Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

Eng

21st march soul sustenance hindi

सफलता प्राप्त करने के लिए निभाए जाने वाले; रोल और सोल की शक्ति को संतुलित करना (भाग 2)

कल के संदेश से आगे बढ़ते हुए, आत्मिक शक्ति (सोल पावर) के विभिन्न पहलू हैं:

अंदर का मौन (silence) और फोकस करने की शक्ति – मौन एक शक्ति है। हमारे मन में जितने कम विचार होंगे और वे जितने शांत, पोजिटीव, शक्तिशाली और एकाग्र होंगे, उतना ही हमारा मन  रोल की सफलता में बेहतर योगदान देगा। परंतु हम सभी को रोल निभाते समय, विभिन्न प्रकार की नेगेटिव परिस्थितियों या बाधाओं का सामना करना पड़ता है, और उस समय हमारे मौन रहने की शक्ति की परीक्षा होती है तो ऐसी परिस्थितियों में हम जितना अधिक मौन की शक्ति का उपयोग कर, स्थिति  को बनाए रखने में सफल होंगे, उतना ही समय के साथ-साथ, हमारा मौन का खजाना जमा होता जाएगा और इसका सबसे सुंदर पोजिटीव पहलू  होगा; कि हमारे रोल और उससे जुडे विभिन्न कार्यों में सफलता ।

अन्दर और बाहर की बेफिक्री/ निश्चितता की शक्ति, खुशी की शक्ति और सन्तुष्टता की शक्ति – खुशी भी एक शक्ति है। किसी के भी संपर्क में आने पर; हमारे चेहरे से, आंखों से, बातों से, अंदर के हल्केपन और उमंग-उत्साह से भरे कार्यों से न केवल हमें बल्कि दूसरों को भी खुशी का अनुभव होता है। इसके अलावा, यह सुनिश्चित करना कि हम खुद से और दूसरों से संतुष्ट हैं और दूसरे भी हमसे संतुष्ट हैं, तो ये संतुष्टता की स्थिति, हमारे रोल में एक पोजिटीव एनर्जी पैदा करने के साथ- साथ,  और भी कई पहलुओं में पोजिटीव तरीकों से मदद करता है। इसके विपरीत, हमारे अंदर या फिर हमारे रिश्तों में असंतोष या अप्रसन्नता की स्थिति, हमारे रोल की सफलता को नेगेटिव रूप से प्रभावित करती है।

कल के सन्देश में, आत्मिक शक्ति (सोल पावर) के शेष पहलुओं को समझेगे।

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए

अच्छाईयों की अपनी ओरिजिनल स्टेट में वापस आएँ (भाग 3)

अच्छाईयों की अपनी ओरिजिनल स्टेट में वापस आएँ (भाग 3)

अच्छाई की अपनी ओरिजिनल स्टेट यानि कि वास्त्विक्ता में लौटने के लिए, हमें आध्यात्मिक शक्तियों और सकारात्मकता के एक हाई सौर्स यानि कि परमात्मा से

Read More »