Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

EN

आत्म सशक्तिकरण

अपने दिन को बेहतर और तनाव मुक्त बनाने के लिए धारण करें सकारात्मक विचारों की अपनी दैनिक खुराक, सुंदर विचार और आत्म शक्ति का जवाब है आत्म सशक्तिकरण ।

क्षमाभाव का संसार क्रिएट करें (भाग 2)

क्षमाभाव का संसार क्रिएट करें (भाग 2)

हम सभी इस बात को अच्छी से समझते हैं कि, दूसरों को क्षमा करना माना अपने क्रोध के संस्कार पर हीलिंग बाम लगाना। लेकिन क्षमा करने के लिए सबसे पहली और महत्वपूर्ण शक्ति है- फुल स्टॉप लगाना। हमारे लिए सबसे बड़ी चुनौती है- विपरित परिस्थितियों

Read More »
क्षमाभाव का संसार क्रिएट करें (भाग 1)

क्षमाभाव का संसार क्रिएट करें (भाग 1)

परमात्मा चाहते हैं कि, हम सभी एक ऐसा संसार क्रिएट करें, जहां सब एक दूसरे को क्षमा कर सकें, सब अनक्रिटिकल हों, किसी की भी गलतियों और कमजोरी पर नजर न रखें और न ही मन में नेगेटिव भाव हों, एक ऐसा संसार जहां अलग-अलग

Read More »
अपने पास्ट से सीखें

अपने पास्ट से सीखें

क्या आपने अपनी पास्ट लाइफ में की गई गलतियों से कुछ सीखने की उम्मीद से कभी झांकने की कोशिश करते हुए आखिर में, स्वयं को फंसा हुआ पाया है? और क्या आप इससे कुछ सीखते हैं या फिर पास्ट में हुई बातों के लिए आपको

Read More »
एक्सपेक्टेशन न करें

एक्सपेक्टेशन न करें

आप सभी ने अपने जीवन में, कभी न कभी ये अनुभव किया होगा कि, आप अपने साथ काम करने वाले कलीग को उसके प्रोजेक्ट पूरा करने में मदद करते हैं, लेकिन जब आपको उसकी मदद की जरूरत होती है, तो वो मना कर देता है।

Read More »
आवेग में दिए गए रिएक्शन को जस्टीफाई न करें

आवेग में दिए गए रिएक्शन को जस्टीफाई न करें

कई बार हम खुद को ऐसी सिचुएशन में पाते हैं, जहां हम अपने शब्दों और व्यवहार पर नियंत्रण खो देते हैं और आवेग में आकर रिएक्ट करते हैं। साथ ही, हम अपनी गलती मानने की जगह, हम अपने इस व्यवहार को जस्टीफाई भी करते हैं।

Read More »
स्वयं खुशियों का अनुभव करें और दूसरों को कराएं (भाग 3)

स्वयं खुशियों का अनुभव करें और दूसरों को कराएं (भाग 3)

अपने दिन की शुरुआत खुशियों भरी बातचीत करने से हम अपनी कई चिंताओं और तनाव जोकि हम सभी के जीवन में कभी न कभी आते ही हैं, उनसे फ्री होने की महसूसता देती है।  साथ ही, खुशियों से भरपूर जीवन हमें स्वयं को अचल अडोल/

Read More »
स्वयं खुशियों का अनुभव करें और दूसरों को कराएं (भाग 2)

स्वयं खुशियों का अनुभव करें और दूसरों को कराएं (भाग 2)

अपने दिन की शुरुआत मन में खुशियों के विचार भरकर करें। आप कुछ इस तरह से संकल्प क्रिएट कर सकते हैं जैसेकि, आज पूरे दिन मैं सभी मिलने वालों को मुस्कान भरा उपहार दूंगा या हर एक की विशेषता को स्मृति में रख, खुशी का

Read More »
स्वयं खुशियों का अनुभव करें और दूसरों को कराएं (भाग 1)

स्वयं खुशियों का अनुभव करें और दूसरों को कराएं (भाग 1)

उत्साह और आनंद से भरपूर जीवन, हम सभी की ज़िंदगी का एक खूबसूरत पहलू है। और हम इन सुंदर गुणों को अपने व्यक्तित्व व कार्य व्यवहार के माध्यम से दूसरों तक रेडिएट करते हैं। स्वयं खुश रहना एक बात है जोकि बहुत नॉर्मल है, लेकिन

Read More »
जीवन में फ़िल्टर्स को बारीकियों से चेक करना

जीवन में फ़िल्टर्स को बारीकियों से चेक करना

आज फिजिकल लेवल पर; कई तरह के और कई रंग के फिल्टर होने के साथ-साथ, आध्यात्मिक स्तर पर भी कई तरह के फिल्टर मौजूद हैं, जोकि हमारे जीवन में काम करते हैं जैसे; ईर्ष्या का फिल्टर, घृणा, भय, लालच का और लगाव का फिल्टर आदि।

Read More »
लोगों और परिस्थितियों को दुआओं भरे आशीर्वाद की एनर्जी दें

लोगों और परिस्थितियों को दुआओं भरे आशीर्वाद की एनर्जी दें

अक्सर जब हम परिवार, दोस्तों या फिर सहकर्मियों की कुछ गलत आदतें या व्यवहार देखते हैं तो परेशान हो जाते हैं। इसी तरह से, अपने आसपास की दुनिया में अप्रिय घटनाएं देखने से हमें असुविधा महसूस होती है कि, लोगों के साथ ऐसा क्यों हो

Read More »
विश्व को स्वर्ग बनाने के 5 स्टेप्स

विश्व को स्वर्ग बनाने के 5 स्टेप्स

पॉजिटिव कांशियसनेस क्रिएट करें कि, आप परमात्मा के कार्य में एक इंस्ट्रूमेंट हैं- परमात्मा सृष्टि परिवर्तन का कार्य कर रहे हैं और विश्व में सतयुग की स्थापना कर रहे हैं। हम सभी परमात्मा के बच्चे हैं और उनके डिवाइन इंस्ट्रूमेंट्स बन उनके इस कार्य में

Read More »
अपने शरीर को हील करने से पहले अपने मन को हील करें

अपने शरीर को हील करने से पहले अपने मन को हील करें

हम सभी अपने शरीर को फिट रखने के लिए बहुत कुछ करते हैं जैसेकि; वर्कआउट के लिए जिम जाते हैं, फल और सब्जियां खाते हैं और प्रतिदिन सात से आठ घंटे की नींद भी लेते हैं। लेकिन इतना सब करने के बाद भी हमारे शरीर

Read More »
डेली लाइफ़ में टाइम मैनेजमेंट (भाग 3)

डेली लाइफ़ में टाइम मैनेजमेंट (भाग 3)

अपने समय को अच्छी तरह से मैनेज करने के लिए सही थॉट्स क्रिएट करने के अलावा, हमें अपने जीवन में सही बैलेंस बनाना भी जरूरी है। उसके लिए हमें चेक करना होगा कि, हमनें अपने पूरे दिन में किए जाने वाले अलग-अलग कार्यों के लिए,

Read More »
डेली लाइफ़ में टाइम मैनेजमेंट (भाग 2)

डेली लाइफ़ में टाइम मैनेजमेंट (भाग 2)

कल के संदेश में हमने जाना कि, हमारे लिए जरूरी है; अपने काम के बीच में से एक या दो मिनट का ब्रेक लें, अपने आप से बात करें और कुछ पॉजिटिव थॉट्स क्रिएट करें। ऐसा करने से हम अपने मन में चल रहे नेगेटिव

Read More »
डेली लाइफ में टाइम मैनेजमेंट (भाग 1)

डेली लाइफ में टाइम मैनेजमेंट (भाग 1)

कभी-कभी कुछ लोगों के लिए अपने वर्क प्रेशर को हैंडल करना, डेड लाइंस को पूरा करना और संबंधों के चैलेंज को हैंडल करना काफी तनाव भरा हो सकता है। अब ऐसे में ये प्रश्न उठता है कि, हम किस प्रकार खुद को तनाव मुक्त रखते

Read More »
मन और उसकी रचनाएँ

मन और उसकी रचनाएँ

आज वैज्ञानिकों ने हमारे शरीर की कार्यप्रणाली के बारे में बहुत कुछ जान लिया है, लेकिन अभी भी ज्यादातर लोग इस रहस्य को नहीं समझ पाए हैं कि, वास्तव में एक इंसान जीवित कैसे रहता है, यह अभी भी एक अनसुलझा रहस्य है। कई लोग

Read More »
डॉक्टर्स की पांच सुंदर स्पिरिचुअल विशेषताएं

डॉक्टर्स की पांच सुंदर स्पिरिचुअल विशेषताएं

1.संपूर्ण और पॉजिटिव स्वास्थ्य हेतु मार्गदर्शन देना: स्वास्थ्य मानव जीवन का महत्वपूर्ण पहलू है। डॉक्टर्स स्पेशल हैं क्योंकि वह न केवल शरीर का उपचार करते हैं, बल्कि अपने भावपूर्ण शब्दों द्वारा, सुख के वायब्रेशन देते हैं, मन को आराम देने वाले, केयर करने वाले शब्दों

Read More »
दूसरों की परवाह करना माना उनकी चिंता करना (भाग 2)

दूसरों की परवाह करना माना उनकी चिंता करना (भाग 2)

हम सभी सूक्ष्म और इनविजिबल स्तर पर एक दूसरे के साथ जुड़े हुए हैं, और अदृश्य रूप से आपस में कम्युनिकेट भी करते हैं। इसके अलावा, हम आपस में एनर्जी का भी लेन देन करते हैं। इसे हम एक उदाहरण के माध्यम से समझा सकते

Read More »
दूसरों की परवाह करना माना उनकी चिंता करना (भाग 1)

दूसरों की परवाह करना माना उनकी चिंता करना (भाग 1)

यह एक ऐसी गलतफहमी है जिसमें जाने-अनजाने में हम सभी बचपन से ही घिरे रहते हैं कि, दूसरो के लिए चिंतित रहना ही उनकी परवाह करना है। हम सभी के सबसे नजदीकी साथी हमारे मां बाप होते हैं जिनके साथ हम बड़े होते हैं। उनकी

Read More »
इनर और आउटर सफलता क्रिएट करें

इनर और आउटर सफलता क्रिएट करें

यदि हम अपने जीवन में सफलताओं को चेक करें तो, क्या इसका कारण अपनी उपलब्धियों, धनसंपत्ति, पद प्रतिष्ठा या फिर अपनी आंतरिक विशेषताओं और गुणों को मानेंगे? अकसर हम सफलता पाने के अवसर बाहर ढूंढते हैं जबकि सफलता हमारे सत्य स्वरूप यानि कि, आत्मा के

Read More »

मेडिटेशन सॉंग