Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

Eng

14th march soul sustenance hindi

ब्रह्माकुमारीज़ संस्था में ज्ञान के सोर्स का आधार क्या है? (भाग 2)

जब हम दुनिया में कहीं भी ब्रह्मा कुमारिस सेवा केंद्र पर जाते हैं, उनसे कहीं भी या किसी अन्य माध्यम से मिलते हैं तो वो जिस ज्ञान की बात करती हैं, तो अगर हमें बताए गए कुछ पहलुओं/ विचारों के बारे में यदि कुछ सवाल व संदेह हैं, तो हमें क्या करना होगा; इस बात का जवाब एकदम सीधा है। आइए, इस ज्ञान के बारे में स्पष्टीकरण और उत्तर प्राप्त करने के साथ-साथ ज्ञान के सोर्स की खोज करें। ब्रह्मा कुमारीस संस्था में सिखाया जाने वाला, राजयोग मेडीटेशन उस सोर्स को अनुभव करने का एक तरीका है, क्योंकि इसके द्वारा हम उस सोर्स; सर्वोच्च सत्ता व परमात्मा के साथ मिलते और बातचीत करते हैं| और एक बार जब आप अपनी जागृति/ एवेयरनेस में यह आध्यात्मिक संबंध बनाकर उस अनुभव को प्राप्त कर लेते हैं, तो आप आसानी से विश्वास कर पाते हैं कि ब्रह्मा कुमारीस में ज्ञान का स्रोत स्वयं परमात्मा हैं, न कि कोई मानव आत्मा, जो स्वयं ही ब्रह्मा कुमारीस के द्वारा मेडीटेशन और आध्यात्मिक ज्ञान के कई अन्य पहलूओं के बारे में सिखाते और समझाते हैं।

साथ ही, हमारी सलाह रहेगी कि यदि आपके मन में कुछ संदेह हैं, तो भी आप आध्यात्मिक ज्ञान को सुनकर और प्रतिदिन कुछ मिनटों के लिए मेडीटेशन का अभ्यास करके अपनी आध्यात्मिक यात्रा शुरू करें। ब्रह्मा कुमारीस संस्था के ज्ञान से जुडने वाले, कई लोगों का अनुभव है कि प्रतिदिन आध्यात्मिक ज्ञान और मेडीटेशन का अभ्यास करने से, समय के साथ-साथ उन्होनें ज्ञान के सोर्स यानी परमात्मा को बहुत गहराई से अनुभव किया। साथ ही, ज्ञान को और अधिक स्पष्ट रूप से समझने के बाद, सोर्स में पूर्ण विश्वास भी आने लगता है कि वह क्या बता रहा है और क्यों बता रहा है? सभी संदेह और प्रश्न पूरी तरह से दूर होने लगते हैं और सत्य पर आधारित ज्ञान की स्पष्ट धारणा उत्पन्न होती है। इसके अलावा, एक बार जब आप अपनी आध्यात्मिक यात्रा शुरू करते हैं, तो इसे बीच में बिल्कुल न छोड़ें, क्योंकि ये यात्रा ही आपको सोर्स, उसके साथ की सुंदर अनुभूति और मंजिल तक पहुंचाने में मदद देगी। लेकिन यदि आप इस आध्यात्मिक ज्ञान की यात्रा के कई पहलुओं पर विश्वास करने के बाद भी, मन में संदेह होने की वजह से, इस यात्रा को बिल्कुल भी शुरू नहीं करते तो आप इस यात्रा के सुंदर अनुभवों से भी चूक जाते हैं। इसलिए, इस अद्भुत यात्रा को शुरू करें और आगे बढते चलें, बाकी सबकुछ उस परम सत्ता या परमात्मा पर छोड़ दें, जो स्वयं ही अपनी उपस्थिती का एहसास करा कर, सत्य ज्ञान को समझा कर आपका मार्गदर्शन करेंगे।

(कल जारी रहेगा…)

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए

जिंदगी की दौड़ में ना भागें…. प्रेजेंट मोमेंट को एंजॉय करें (भाग 1)

जिंदगी की दौड़ में ना भागें….प्रेजेंट मोमेंट को एंजॉय करें (भाग 1)

हर मनुष्य खुशियां चाहता है। हम अपने लिए खुशियों को ढूंढते रहते हैं और अपने हर एक लक्ष्य; हमारा स्वास्थ, सुंदरता, धन या अपनी भूमिकाओं

Read More »