Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

EN

15th april soul sustenance hindi

नेगेटिव स्थिति को सोल्व करने के 3 कदम (भाग 2)

कदम 2 – मन को पोजिटीव और शक्तिशाली बनाना – किसी भी नेगेटिव परिस्थिति को सोल्व करने के लिए, आंतरिक शक्ति को बढाकर, आध्यात्मिकता और दृढ़ संकल्पों की मदद से, मन के विचारों को पोजिटीव और शक्तिशाली बनाना है। सबसे अच्छा तरीका है कि आप जिस भी नेगेटिव परिस्थिति का सामना कर रहे हैं, उसके अनुसार, अपने लिए एक पोजिटीव अफरमेशन को सुबह उठते ही, दिन में कुछ भी खाने-पीने से पहले और सोने से ठीक पहले, मन ही मन इसका अभ्यास करें। इस अफरमेशन को पूरे दृढ़ विश्वास और फीलिंग के साथ, मन ही मन में दोहराना चाहिए। साथ ही स्वयं को याद दिलाते रहें, कि यह परिस्थिति हमारे निर्भय और स्टेब्ल रहने से, परमात्मा की याद और मदद से आसानी से हल हो जाएगी, परमात्मा जो सर्वशक्तिमान हैं और ज्ञान के सागर हैं और दुनिया में किसी भी स्थिति को सोल्व करना जानते हैं। हमें भी हर कदम पर, उनके साथ का और उनके द्वारा दी गई शक्तियों का अनुभव करते रहने के साथ, मजबूती से उनका हाथ थाम कर पूर्ण आत्मविश्वास और मदद का अनुभव करना चाहिए।

परमपिता परमात्मा की शक्तियों को महसूस करने के लिए, समय प्रति समय उनके साथ जुड़ें और बात-चीत करें। उनको अपनी नेगेटिव परिस्थिति के बारे में बताएं और उनके पोजिटीव वाईब्रेशन को फील कर, आगे क्या करना है  के बारे में संकल्प लें। कोई भी कठिन परिस्थिति और असफलता से भरे- अंधकार मार्ग को, परमात्मा से प्राप्त हुई शक्तियों और परमात्म लाईट से पार करना आसान हो जाता है। अंत में, नेगेटिव परिस्थितियों को पार करने के लिए, परमात्मा द्वारा बताये गये आध्यात्मिक ज्ञान के बिंदुओं को भी याद रखें और एप्लाई करें और उस आध्यात्मिक ज्ञान के आधार पर, अपने मन को प्रसन्नता और संतोष से भरें। साथ ही, पास्ट में बीती हुई विभिन्न नेगेटिव परिस्थितियों को परमात्मा की सहायता और सहयोग से पार करने के, अपने अनुभव को भी याद रखें। मन का ये विश्वास और हल्कापन, पोजिटीव सोल्युशन को आसानी से और तेजी से आकर्षित करता है और हमारे मन और विचारों को किसी भी दबाव के बिना, उस स्पेसिफिक स्थिति का आसानी से सामना करने के लिए मजबूत बनाता है।

(कल जारी रहेगा…)

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए