Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

EN

16th april soul sustenance hindi

नेगेटिव स्थिति को सोल्व करने के 3 कदम (भाग 3)

कदम 3 – पोजिटीव संकल्पों को रचना – तीसरा और एक बहुत ही महत्वपूर्ण कदम है स्थिति को ठीक करने के लिए, फिजीकल स्तर पर पोजिटीविटी को लाना। कभी-कभी हम सोचते हैं कि केवल पोजिटीव सोचने से और परमात्मा को याद करने से ही, स्थिति अपने आप ठीक हो जाएगी। लेकिन कभी-कभी कुछ परिस्थितियों को सुलझाने के लिए देरी से उठाये गये कदम, स्थिति को और खराब कर, पूरी तरह से हमारे कंट्रोल से बाहर कर सकते है। तो, परमात्मा से ली गई पोजिटीव एनर्जी की मदद से, हमें उस स्थिति को सोल्व करने के सोच- विचार के साथ साथ, दूसरों के साथ भी चर्चा करनी चाहिए कि हमें जल्द से जल्द क्या और कैसे करना चाहिए? ऐसे समय हमें परमात्मा की प्रेसेजन्स को फील करने के साथ, ज्ञान से भरी अपनी दिव्य बुद्धि से केच करें कि वे हमसे क्या संवाद कर रहे है। अन्य लोगों से बात करना और आध्यात्मिक ज्ञान पढ़ना भी बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि परमात्मा कभी-कभी दूसरों या फिर डेली ज्ञान के माध्यम से हमें गाईड करते हैं, जिसे हम पढ़ते या सुनते हैं, और जब हम परिस्थितियों को सोल्व करने की उम्मीद भी नहीं करते तो भी हमें जल्द ही समाधान मिल जाता है।

आखिर में, धैर्यता रखें और याद रखें कि, जैसे-जैसे हम परिस्थितियों को पार करने के संकल्प से गुजरते हैं, वैसे-वैसे परमात्मा भी संकल्पों में हमारी प्रोग्रेस देखकर हमें गाईड कर, समस्या के समाधान की ओर ले जाते हैं। लेकिन, यदि हम स्वयं कोई कदम नहीं उठाते हैं, तो परमात्मा भी हमें गाईड करने में सक्षम नहीं है, क्योंकि हम स्वयं कुछ किए बिना, उनके ऊपर निर्भर होकर, सब कुछ पूरी तरह से उन पर छोड़ देते हैं। परमात्मा कहते हैं कि जैसे ही आप दृढ़ संकल्प से भरा एक कदम बढ़ाएंगे, मैं आपकी हजार गुना अधिक मदद करूंगा। लेकिन अगर हम वह एक कदम भी नहीं उठाते हैं, तो परमात्मा भी उस स्थिति से अलग रह साक्षी हो देखता है, और हमें उम्मीद के अनुसार मदद नहीं मिलती। दूसरी ओर, जब हम दृढ़ संकल्प से भरा एक कदम उठाते हैं तो परमात्मा की चमत्कारी सहायता मिलती है और हमें यह महसूस भी कराती है कि ये परिस्थिति उतनी बड़ी नहीं थी जितना हम सोच रहे थे। इसलिये हमें किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए, हिम्मत का एक कदम उठाकर उस स्थिति को ठीक करने के लिए, हर संभव प्रयास करने की जरूरत है।

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए