Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

Eng

क्रोध पर कंट्रोल पाने के 5 उपाय (भाग 2)

क्रोध पर कंट्रोल पाने के 5 उपाय (भाग 2)

  1. हमेशा याद रखें, मैं असीम शांति और प्रेम का सोर्स हूं – इंटरनली हम सभी शांति और प्रेम के सुंदर सोर्स हैं, जिसे हम हर समय अनुभव कर, दूसरों के साथ शेयर कर सकते हैं। साथ ही जहां शांति और प्रेम होता है, वहां अलग अलग नेचर के लोगों और परीस्थितियों को सहन करने की शक्तियां भी हमारे अंदर आ जाती हैं, जिससे हम उन परिस्थितियों में वायलेंटली रिएक्ट करने के बजाय, उन्हें शांति और धैर्यता से फेस कर सकते हैं। किसी से घृणा करना, उनकी बुराई करना या उनके अगेंस्ट बातें करना, का कारण अपने अंदर की मधुर शांति और प्रेम की भरपूरता को भूलना है। हम सभी को अपने दिन की शुरुआत नीचे शेयर किए गए एफरमेशन या स्वाभिमान के साथ करनी चाहिए: मैं प्रकाश का एक पुंज हूँ, शांति और प्रेम से भरी एक एनर्जी हूँ। मैं अपने स्पिरीचुअल स्वरूप की कल्पना करता हूं, कि मैं मस्तक के बीच चमकता हुआ एक सितारा हूं। और मैं इसी प्रकाश की मिठास को अपने चारों ओर रेडियट करता हूं। दिन में कई बार, स्वयं को ये स्वाभिमान याद दिलाते रहें, जिससे लोगों और विभिन्न परिस्थितीयों के समय, हमारे गुस्से और नफरत भरे रिएक्शन मधुरता और विनम्रता में बदल जाएंगे।
  2. क्षमा करें और भूल जाएं – क्या आपने कभी किसी व्यक्ति के नेगेटिव एक्शन जो आपको हर्ट करते हैं, उनके बारे में सोचते हुए एक पूरा दिन बिताया है? आपके मन में ऐसे छोटे छोटे हर्ट भरे क्षण, धीरे धीरे तेज गुस्से जा कारण बन सकते हैं और आपके मन को एग्रेशन से भर सकते हैं। और इस प्रकार से समय के साथ जमा हुआ ये गुस्सा, कई परिस्थितियों में आपके मन को और अन्य लोगों के सामने भी रिएक्ट हो सकता है, भले ही वे गुस्से का कारण न भी हों। किसी को क्षमा करने और बातों को भूलने के लिए, इमोशनल  शक्ति जरूरी होती है। गुस्से के समय, रिएक्ट करने के बजाय, प्रेम से रेस्पॉन्ड करना ही क्षमा करना है। क्षमा करना माना बिना शर्त प्यार करना है। बीती बातों को भूल जाने से खुद का ही भला होता है वरना, हमारे मन की घृणा और नफरत, हमारे तन, मन और सम्बन्धों को बहुत नुकसान पहुँचाती है। जब आप क्षमा करते हैं, तभी आप बातों को भूल सकते हैं। क्षमा करने के लिए, हमेशा याद रखें कि, सभी प्राणियों का ओरिजिनल संस्कार शांति और प्रेम है, और किसी के द्वारा किया गया कोई भी नेगेटिव एक्शन व कमेंट; उनके टेंपररी नेगेटिव संस्कारों की वजह से है।

(कल जारी रहेगा…)

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए

सफलता के लिए एक आदर्श व्यक्तित्व का निर्माण करें (भाग 1)

सफलता के लिए एक आदर्श व्यक्तित्व का निर्माण करें (भाग 1)

अनेक प्रकार की परिस्थितियों से भरा जीवन जीना और अलग-अलग तरीके के लोगों से मिलना; अपने साथ कुछ चैलेंजेस और स्वयं के व्यक्तित्व को बदलने

Read More »
नींद को शांतिपूर्ण और आनंदमय बनाने के 5 टिप्स

नींद को शांतिपूर्ण और आनंदमय बनाने के 5 टिप्स

नींद; मनुष्य की वेल बीइंग के सबसे महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक है और यह हमारे शारीरिक, आध्यात्मिक और भावनात्मक स्वास्थ्य को अत्यधिक प्रभावित करती

Read More »