Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

Eng

28th feb soul sustenance - hindi

सफलता का अनुभव करने के लिए जरुरी 8 शक्तियाँ (भाग2)

अपने दिन की शुरुआत करने से पहले, आपके पास जो भी दिन भर के कामों की लिस्ट हो, तो अपने आप को याद दिलाएं कि मुझे आज विभिन्न प्रकार की परिस्थितियों पर काबू पाने और सफलता का अनुभव करने के लिए इन आठ आध्यात्मिक शक्तियों का उपयोग करना है। उदाहरण के लिए: आज मुझे कंपनी की बैठक में अधिकारियों के एक समूह से मिलना है और हमें सभी के फीडबेक के आधार पर कुछ निर्णय लेने हैं। ऐसी स्थिति के लिए, मुझे लोगों के अलग-अलग विचारों के लिए परखने की शक्ति का उपयोग करना होगा और साथ ही अलग -अलग मतों के आधार पर निर्णय लेने की शक्ति का भी उपयोग करना होगा। इन सभी बातों को डील करने के लिए मुझे स्वच्छ बुद्धि और स्थिर मन के साथ – साथ, कल के संदेश के अनुसार; इन दोनों शक्तियों के संस्करों को विशेष रूप से बढाना पडेगा। एक दूसरी स्थिति में: अचानक ऑफिस में मेरे एक करीबी सहयोगी के साथ मेरा कोल्ड वॉर हो जाता है और वह मुझसे दूरी बनाने लगता है। ऐसी स्थिति में उसके साथ अपने संबंध ठीक करने के लिए; मुझे अन्य शक्तियों के साथ कुछ हद तक सहयोग करने की और समाने की शक्ति की आवश्यकता है। तो ये कार्यस्थल पर होने वाली, दो अलग-अलग स्थितियों के उदाहरण हैं।

फिर हमारे पर्सनळ लेवल पर भी ऐसी स्थितियाँ आती हैं जैसे कि हम बीमार हो जाते है और मन दुखी हो जाता है और चेहरे पर मुस्कान की जगह असंतोष और उदासीनता आ जाती है। इस तरह की शारीरिक समस्याओं की परेशानी का सामना बहुत से लोगों को करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में मुख्यता; सामना करने की शक्ति और समाने की शक्ति की आवश्यकता होती है| आमतौर पर बीमारी होने पर, अन्य छह शक्तियां कम हो जाती हैं। और कुछ लोग तो शारीरिक रूप से ठीक नहीं होने पर बहुत जल्दी आपा खो देते हैं या गुस्सा हो जाते हैं यानि उनकी सहन करने की शक्ति और सहयोग करने की शक्ति कम हो जाती है। इसके अलावा, बीमारी के समय, कुछ लोगों को सही और गलत में अंतर करना या परखना और सही निर्णय लेना भी मुश्किल होता है, जबकि हम देखते है कि वास्तविक जीवन स्थितियों में सफल, होने के लिए ये दोनों ही शक्तियां बहुत आवश्यक हैं। और फिर, कई लोगों में बीमारी के समय नकारात्मक विचार भी बढ़ सकते हैं, तो लोगों को ठीक से सोना और ध्यान केंद्रित करना बेहद मुश्किल होता है तब ऐसी स्थिति में उनकी समेटने की और अंतर्मुखता की शक्ति प्रभावित हो सकती है।

(कल जारी रहेगा…)

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए

अच्छाईयों की अपनी ओरिजिनल स्टेट में वापस आएँ (भाग 2)

अच्छाईयों की अपनी ओरिजिनल स्टेट में वापस आएँ (भाग 2)

व्यक्तित्व स्तर पर, अच्छाईयां हमारा ओरिजिनल नेचर है जबकि बनावटी या नकारात्मक व्यक्तित्व विशेषताएँ हम एक्वायर करते हैं। एक व्यक्ति जो जीवन भर अच्छे कर्म

Read More »