Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

Eng

31st march soul sustenance hindi

दूसरों की लाईफ स्क्रिप्ट लिखने की बुरी आदत से बचें

अब तक यह सभी को ज्ञात हो चुका है कि इस वर्ल्ड- ड्रामा में हम सभी एक्टर्स हैं, और विभिन्न-विभिन्न भूमिकाएँ निभाते हैं। इस जीवन का हर सीन, स्वयं की स्क्रिप्ट लिखने और उसपर अभिनय करने की मांग करता है, लेकिन, ज्यादातर हम अपनी स्क्रिप्ट्स पर ध्यान नहीं देते और इसके बजाय दूसरों की स्क्रिप्ट लिखने में बिजी हो जाते हैं जैसे कि उन्हें क्या कहना चाहिए, उन्हें कैसे व्यवहार करना चाहिए, उन्हें कैसे रेस्पोंड करना चाहिए इत्यादि…. हम उनके रोल में इतना उलझ जाते हैं कि हमें क्या करना है वो भूल जाते हैं। सभी लोग अपनी- अपनी  स्क्रिप्ट स्वयं लिखते हैं, और वे हमारी उम्मीदों के अनुसार नहीं चल सकते। आईये इसके बारे में गहराई से जानें:

  1. क्या आप स्वयं को बार-बार दूसरों की चेकिंग करते हुए पाते हैं, और अपना दिमाग चलाते हैं कि उन्हें कैसा होना चाहिए, क्या करना चाहिए? फिर जब वे आपकी स्क्रिप्ट के अनुसार नहीं चलते करते, तो आप अपने को हारा हुआ महसूस करते हैं? क्या आपको लगता है कि दूसरों पर ध्यान केंद्रित करने से आपका समय और एनर्जी वेस्ट होती है और आपकी इस आदत के कारण आपकी स्वयं की ग्रोथ प्रभावित होती है?
  2. हम सभी इस वर्ल्ड- ड्रामा में एक्टर्स हैं, और अपने-अपने जीवन में कई रोल निभाते हैं और साथ ही हम सभी हर एक सीन में एक्टर्, डायरेक्टर और स्क्रिप्ट लेखक भी होते हैं। लेकिन अपने साथी एक्टर्स के साथ अपना रोल-प्ले करते समय, हम उनके प्रदर्शन पर ध्यान देना शुरू कर देते हैं, और मन ही मन उनकी स्क्रिप्ट लिखने के साथ-साथ उनसे इसके अनुसार चलने उम्मीद भी रखते हैं। लेकिन वे सब हमारे द्वारा लिखी स्क्रिप्ट के अनुसार नहीं चल सकते।
  3. हमारा ध्यान अपने प्रदर्शन पर होना चाहिए। हमारे द्वारा निभाये गये हर रोल में, हमारे अंदर की शांति, प्रेम और समझ झलकना चाहिए, और यहां तक ​​कि अपने साथी एक्टर्स (जो सही तरीके से अपना प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं), तो हमारे प्रदर्शन से उन्हें भी आगे बढने का रास्ता मिल सके।
  4. अपनी स्वयं की स्क्रिप्ट की श्रेष्ठता के बारे में जागरूक रहें नाकि दूसरों की। जीवन में आने वाले हर सीन को आराम से, अच्छे मन से, अपने साथी एक्टर्स को भी आगे बढाते हुए अच्छी तरह से पार करें। स्वयं को याद दिलाते रहें, कि मैं अपने द्वारा निभाए गये- हर रोल को शांति और करुणा से और अपने साथी एक्टर्स के प्रदर्शन से प्रभावित हुए बिना निभाता रहूं।

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए

अच्छाईयों की अपनी ओरिजिनल स्टेट में वापस आएँ (भाग 3)

अच्छाईयों की अपनी ओरिजिनल स्टेट में वापस आएँ (भाग 3)

अच्छाई की अपनी ओरिजिनल स्टेट यानि कि वास्त्विक्ता में लौटने के लिए, हमें आध्यात्मिक शक्तियों और सकारात्मकता के एक हाई सौर्स यानि कि परमात्मा से

Read More »
अच्छाईयों की अपनी ओरिजिनल स्टेट में वापस आएँ (भाग 2)

अच्छाईयों की अपनी ओरिजिनल स्टेट में वापस आएँ (भाग 2)

व्यक्तित्व स्तर पर, अच्छाईयां हमारा ओरिजिनल नेचर है जबकि बनावटी या नकारात्मक व्यक्तित्व विशेषताएँ हम एक्वायर करते हैं। एक व्यक्ति जो जीवन भर अच्छे कर्म

Read More »