Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

EN

अपने हर दिन को “नो कंप्लेंट डे” बनाएं

November 23, 2023

अपने हर दिन को “नो कंप्लेंट डे” बनाएं

 

चेक करें कि आखिरी बार हमने कब किसी व्यक्ति या स्थिति के बारे में शिकायत की थी? आप पाएंगे कि यह बहुत समय पहले नहीं हुआ होगा .. हो सकता है कल ही की बात हो। हमारा जीवन बहुत सुंदर है, फिर भी हम बार-बार शिकायत करने, कमियाँ निकालने और नकारात्मक बातें करने में लगे रहते हैं। हमारी यह आदत हमें तनाव देती है, कमजोर करती है और समाधान तक पहुंचने से रोकती है। बार-बार शिकायत करना यह दर्शाता है कि पहले हमें अपने अंदर चेंज लाने की जरूरत है, नाकि जो हमारे साथ हो रहा है उसमें। आइए आज के संदेश में इसके बारे में समझें:

 

  1. क्या आप जानबूझकर या फिर अनजाने में, लोगों और परिस्थितियों के बारे में शिकायत करते हैं? क्या ट्रैफिक जाम, खराब मौसम, बेस्वाद भोजन, या फिर परिवार वा सहकर्मियों की गलतियाँ आपको इतना परेशान करती हैं कि आप शिकायत करने लगते हैं?

 

  1. आप चाहें या न चाहें, ऐसा लगता है कि शिकायत करना आज जीवन जीने का एक तरीका बन गया है। जीवन के प्रत्येक दृश्य में, हमारे पास 2 चॉइसेज होती हैं: पहली कि आप उन लोगों वा परिस्थितियों को स्वीकार कर समा लें और फ्लो के साथ बढ़ते चलें ताकि हमारी एनर्जी लोगों और परिस्थितियों के अनुरूप हो। दूसरी चॉइस है कि उस सीन के बारे में सिर्फ इसलिए शिकायत करते रहें क्योंकि यह सही नहीं है।

 

  1. लोग जैसे हैं वैसे ही रहेंगे और परिस्थितियाँ भी नहीं बदलने वालीं हैं इसलिए अगर कुछ बदलने की जरूरत है, तो सबसे पहले हमें अपने विचारों या शब्दों में शिकायत नहीं करनी है। हमें अपनी एनर्जी शिकायत करने में बर्बाद करने के बजाय, जो सही नहीं है उसे बदलने में लगानी चाहिए। अन्यथा, शिकायत करके हम खुद एक नेगेटिव एनर्जी क्रिएट करते हैं। धीरे धीरे यह एक आदत बन जाएगी और जल्द ही, हम अपने जीवन से भी खुश नहीं रह पाएंगे।

 

  1. इसके लिए; एक पूरे दिन कोई भी शिकायत न करें, चाहे कुछ भी हो जाए। हो सकता है कि पूरे दिन बाहर की परिस्थितियाँ वैसी की वैसी ही चुनौतीपूर्ण रहें, लेकिन आप अपने आंतरिक रूप में एक सकारात्मक बदलाव का अनुभव करेंगे। और फिर हर रोज ऐसा ही करें, स्वयं को याद दिलाएं – मैं आज कोई शिकायत नहीं करने के लिए प्रतिबद्ध हूं। मैं स्वीकृति और सम्मान की एनर्जी के साथ लोगों के, परिस्थितियों के साथ जीवन जी सकता हूं।

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए

अपने पास्ट से सीखें

अपने पास्ट से सीखें

क्या आपने अपनी पास्ट लाइफ में की गई गलतियों से कुछ सीखने की उम्मीद से कभी झांकने की कोशिश करते हुए आखिर में, स्वयं को

Read More »
एक्सपेक्टेशन न करें

एक्सपेक्टेशन न करें

आप सभी ने अपने जीवन में, कभी न कभी ये अनुभव किया होगा कि, आप अपने साथ काम करने वाले कलीग को उसके प्रोजेक्ट पूरा

Read More »