Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

Eng

हर कदम पर अपने वेल्यूज को थामे रहें

January 24, 2024

हर कदम पर अपने वेल्यूज को थामे रहें

जीवन में हमें अपना बैटर वर्जन बनने के लिए, बहुत कुछ हासिल करने की ज़रूरत नहीं होती है, लेकिन यह सुनिश्चित करना ज़रूरी होता है कि, हमारे पास जो भी क्वॉलिटीज हैं; हम उन्हें खोने न दें। आमतौर पर हमारा व्यवहार लोगों द्वारा किए गए व्यवहार के अनुसार होता है। यदि वे हमारे साथ अच्छे हैं, तो हम उनके साथ अच्छा व्यवहार करते हैं, वरना हमारा व्यवहार उनके प्रति नेगेटिव हो जाता है, लेकिन हमें यह याद रखना चाहिए कि, दूसरों के व्यवहार की नकल करके हमें अपने गुणों को कम नहीं करना है। इसके लिए चेक करें कि; क्या आप लोगों के नैतिक मूल्यों में गिरावट आने से हतोत्साहित हो जाते हैं? जब आप किसी के साथ बातचीत के दौरान अपने गुणों का उपयोग करते हैं, और वह व्यक्ति बदले में पॉजीटिव रिएक्शन न दे, तो क्या आपको उनके व्यवहार की नकल करने का मन करता है? क्या आपने अपनी कोई वैल्यूज सिर्फ इसलिए छोड़ दी क्योंकि, आपके आस-पास के लोगों के लिए इसकी कोई इंपॉर्टेंस नहीं थी? अक्सर हम सभी यथासंभव अच्छे और दयालु बनने का प्रयास करते हैं। परंतु समस्या तब आती है जब हम दूसरे व्यक्ति से भी वही अपेक्षा रखते हैं कि, वह हमारे लिए भी उतना ही अच्छा (या उससे भी बेहतर) हो। और इससे भी बड़ी समस्या यह है कि, यदि वह व्यक्ति हमारे लिए सही नहीं है, तो हम उसके व्यवहार की नकल करते हैं। याद रखें कि, जितनी बार हम किसी के गलत व्यवहार की नकल करते हैं, उतनी बार हम अपने गुणों से दूर होते जाते हैं। और इवेंचुएली हम अपने गुणों को त्याग देते हैंहमारे वैल्यूज, एथिक्स, गुण और सिद्धांत हमारी ताकत हैं। इसलिए हमेशा उन्हें कसकर पकड़े रहें, भले ही हमारे आस-पास के लोगों के लिए उनकी कोई इंपॉर्टेंस न भी हो, और भले ही उनकी सोच हो कि, आज के जमाने में वैल्यूज काम नहीं करतीं, तो भी हमें उन्हें छोड़ना नहीं चाहिए। विभिन्न लोगों में अलग प्रकार के गुण हो सकते हैं जो शायद आपमें न हों। इसके लिए बस यह सुनिश्चित करते रहें कि, आप हर समय और हर किसी के साथ अपनी वैल्यूज को यूज़ करें। स्वयं को एफरमेशन दें- मैं हर परिस्थिति और हर किसी के साथ अपने गुणों का उपयोग करता हूं। मेरे वैल्यूज मेरे शक्तिशाली व्यक्तित्व का दर्पण हैं।

जीवन के हर कदम पर, यह सुनिश्चित करना शुरू करें कि, हर स्थिति में आपकी क्वॉलिटीज और वैल्यूज के वायब्रेशन अन्य लोगों तक पहुंचते हैं। आप लोगों से इसकी अपेक्षा नहीं करते कि, बदले में वो भी ऐसा करें और साथ ही आप केवल इसलिए हार नहीं मानते, क्योंकि उनके पास ये क्वॉलिटीज नहीं हैं। स्वयं को याद दिलाएं- मेरे गुण ही मेरी असली संपत्ति हैं। मैं उन्हें हर पल रेडिएट करता हूं। मेरे वैल्यूज लोगों और परिस्थितियों के ऊपर निर्भर नहीं करते हैं।

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए

आपका मन भी एक बच्चा है

आपका मन भी एक बच्चा है

मन हमारे बच्चे जैसा है। इसलिए जब हम अपनी जिम्मेदारियां निभाते हैं, तो भी हमारी प्रायोरिटी इस बच्चे की भलाई होनी चाहिए। हमें इसका सही

Read More »