Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

EN

महाशिवरात्रि पर परमात्म संदेश (पार्ट 3)

March 7, 2024

महाशिवरात्रि पर परमात्म संदेश (पार्ट 3)

कल के संदेश के आगे 

बच्चों, आज तक तुम यही सोचते आए हो कि, परमात्मा तुम्हारा भाग्य लिखता है, इसलिए जब भी तुम्हें कोई समस्या या परेशानी होती है तो तुम मुझे उसका दोषी समझते हो और उसे ठीक करने के लिए भी मुझे ही पुकारते हो। मेरे प्यारे बच्चों, मैं तुम्हारा पिता हूँ, तो क्या मैं तुम्हारे जीवन में बीमारी, गरीबी, आपसी टकराव या प्राकृतिक आपदाएं ला सकता हूँ या तुम्हारे साथ दुर्व्यवहार कर सकता हूँ? क्या तुम जानते हो कि, तुम्हारे इस भौतिक संसार में हर चीज लॉ ऑफ़ कर्मा के अनुसार काम करती है, इसलिए जो कुछ भी तुम्हारे साथ हो रहा है वो तुम्हारे ही कर्मों का फल है। मैं तो तुम्हें ज्ञान और शक्ति देता हूं जिससे तुम अपने सुंदर भाग्य का निर्माण कर सकते हो। लेकिन उसके लिए तुम्हें मुझसे जुड़ना होगा और मेरे द्वारा दिए गए ज्ञान को पढ़ना होगा।

मीठे बच्चे, इतने वर्षों तक मुझे ढूंढने की तुम्हारी खोज अब समाप्त हो चुकी है। इतने वर्षों तक तुम मुझे ढूँढ नहीं पाए, क्योंकि मैं तुम्हारे संसार में नहीं था। परंतु अब तुम्हें अपना और मेरा परिचय याद दिलाने के लिए मैं इस धरा पर आ चुका हूँ।

मीठे बच्चों, मैं तुम्हारी तरह एक ज्योति बिंदु प्रकाश हूँ। मैं पवित्रता, प्रेम और ज्ञान का सागर हूँ। साथ ही मैं तुम्हारा परमपिता, शिक्षक और गुरु भी हूँ। तुम बच्चे शरीर धारण करते हो और जन्म और पुनर्जन्म के चक्र में आते हो और मैं शरीर धारण नहीं करता हूँ। मैं शांति और पवित्रता से भरपूर सोल वर्ल्ड में रहता हूँ, जो तुम सब का भी घर है और जहां से तुम सब आत्माएं इस संसार में आते हो। अब मैं तुम्हारे इस भौतिक संसार में तुम्हें ज्ञान, प्रेम और शक्ति देने आया हूं।

(कल भी जारी रहेगा)

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए