Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

Eng

नींद को शांतिपूर्ण और आनंदमय बनाने के 5 टिप्स

June 23, 2024

नींद को शांतिपूर्ण और आनंदमय बनाने के 5 टिप्स

नींद; मनुष्य की वेल बीइंग के सबसे महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक है और यह हमारे शारीरिक, आध्यात्मिक और भावनात्मक स्वास्थ्य को अत्यधिक प्रभावित करती है। आइए, नींद को शांतिपूर्ण और आनंदमय बनाने के लिए जरूरी 5 टिप्स को जानें:

 

  1. सोने से पहले कुछ मिनट के लिए योग करें- हम आत्माएं पूरे दिनभर शरीर के माध्यम द्वारा कार्य करती हैं और मन लगातार थॉट्स क्रिएट करता रहता है। इसलिए सोने से पहले लगभग 15 मिनट तक सोल कांशियसनेस स्थिति को अनुभव करके परमात्मा से जुड़ना अच्छा है। इससे मन शांत और बुद्धि शुद्ध हो जाती है, जो रात की अच्छी नींद के लिए उत्तम तैयारी है।

 

  1. सोने से पहले मोबाइल फोन का इस्तेमाल और टीवी देखना कम करें- सोने से लगभग 45 मिनट से एक घंटे पहले तक अपने मोबाइल फोन को जितना हो सके अपनी आंखों से दूर रखें और टेलीविजन देखने से भी बचें। इससे मन और मस्तिष्क को काफी आराम मिलेगा और आपको बिस्तर पर लेटते ही आसानी से नींद आने में आसानी होगी।

 

  1. बीते हुए दिन के लिए परमात्मा को धन्यवाद दें और सोने से पहले सारे बोझ उन्हें अर्पण कर दें- परमात्मा को बीते हुए दिन के बारे में बताएं, उन्हें धन्यवाद दें और अगर दिन में कुछ गलत हो गया हो तो सोने से पहले उस बोझ को उन्हें दे दें। बोझ के साथ न सोएं। क्योंकि यदि आप हैवी कांशियसनेस के साथ सोते हैं, तो आपको सोने में समय लग सकता है और यदि आप जल्दी सो भी जाते हैं, तो भी आप अपने मन के भारीपन के चलते बीच में उठ सकते हैं।

 

  1. सोने से पहले अपने बेड के चारों ओर पॉजिटिव एनर्जी के सर्किल को विजुवलाइज करें, एफरमेशन करें- सोने से पहले कुछ सेकंड के लिए अपने बेड के चारों ओर शांति, पवित्रता और शक्ति के एक सुनहरे सर्किल की कल्पना करें और एफरमेशन करें कि- मैं शांति और आनंद से भरपूर आत्मा हूं… मैं सुरक्षित हूं और मैं आसानी से सो पाता हूं। ये आपके ऑरा को पॉजिटिव बनाएगा और साथ ही आपको नेगेटिव और अशुद्ध एनर्जी से बचाएगा जो आपकी नींद में खलल डाल सकती हैं।

 

  1. सोने से पहले ज्यादा बात करने या अनावश्यक बातचीत करने से बचें- सोने से पहले आप जितना अधिक बात करेंगे, माइंड में उतने ही अधिक विचार क्रिएट होंगे और आपका ब्रेन उतना ही अधिक एक्टिव हो जाएगा। इसलिए सोने से पहले कम बोलें, मीठा बोलें और धीरे बोलें। अन्यथा सोने से ठीक पहले बोले गए शब्दों के विचार आपको अपने मन को स्विच ऑफ करके नींद में जाने से रोकते हैं।

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए