Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

EN

स्वयं खुशियों का अनुभव करें और दूसरों को कराएं (भाग 3)

February 16, 2024

स्वयं खुशियों का अनुभव करें और दूसरों को कराएं (भाग 3)

अपने दिन की शुरुआत खुशियों भरी बातचीत करने से हम अपनी कई चिंताओं और तनाव जोकि हम सभी के जीवन में कभी न कभी आते ही हैं, उनसे फ्री होने की महसूसता देती है।  साथ ही, खुशियों से भरपूर जीवन हमें स्वयं को अचल अडोल/ स्टेबल और भावनात्मक रूप से शक्तिशाली बनाने का सबसे अच्छा तरीका है। आप सिर्फ एक दिन के लिए इसे आजमाएं, जो भी मिले उसे खुशियां दें और अगले दिन ऐसा न करें, आप पाएंगे कि, जिस दिन आपने खुशियां बांटी, उस दिन आप खुद को अंदर से सशक्त महसूस करेंगे। इसके अलावा आप अपने जीवन की मुश्किलों को भी सहजता और स्टेबिलिटी के साथ सामना कर पायेंगे। 

 

जीवन के ऐसे इनविजिबल उपहार जो हमारे इनर व्यक्तित्व का स्वभाव संस्कार हों, सभी के साथ बांटे जैसेकि आप खुशियों से भरी किसी यात्रा पर हों और इन्हीं फीलिंग्स के साथ आपका दिन भी बहुत जल्दी बीत जाएगा। हमेशा अपनी विशेषताओं का उपहार सभी को बांटे, इन्हें अपने पास न रखकर दूसरों को देने में अपना बड़ा दिल दिखाएं। मान लीजिए, किसी के पास आत्मविश्वास के साथ बोलने का गुण है, तो उस विशेषता को अपने तक ही सीमित न रख, उसके द्वारा हर एक को खुशी देते हुए उत्साह बढ़ाना है। यदि आप बहुत विनम्र हैं और सबके प्रति शुभकामना रखते हैं तो उन्हें अपने अंदर ही न रखकर बल्कि अपने शब्दों और बातचीत के माध्यम से व्यक्त करें। और सभी को अपनी सद्भावना की खुशी का एहसास कराएं। इसके अलावा मान लीजिए कि, आप बहुत बुद्धिमान हैं, और अपने व्यक्तित्व और विवेक द्वारा इस दुनिया की कई बातों के बारे में दूसरों की मदद करते हैं। यह सभी खुशियां फैलाने के तरीके हैं। याद रखें कि हमें अपनी विशेषताओं को अपने अंदर न रखकर दूसरों के साथ शेयर करें। अपनी इन विशेषताओं के वायब्रेशन, अपने आसपास के लोगों तक फैलाएं जिससे यह जीवन न केवल आपके लिए बल्कि आपके आसपास के अन्य लोगों के लिए भी प्यार से भरपूर और आनंदमय  हो जाएगा।

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए