Brahma Kumaris Logo Hindi Official Website

EN

दिन के हर पल को कीमती बनाएं

May 13, 2024

दिन के हर पल को कीमती बनाएं

हम सभी एक ऐसी दुनिया में रहते हैं जहां समय हमारे जीवन का एक बहुत ही महत्त्वपूर्ण पहलू है, जिसके इर्द गिर्द हमारा जीवन घूमता रहता है। जैसे ही हम अपने दिन की शुरुआत करते हैं, ये जीवन हम सभी को कुछ मीनिंगफुल करने के लिए और दिन के हर पल को कीमती बनाने के लिए, कुछ विशेष समय यानि कि निश्चित घंटे देता है। तो हम दिन के हर पल को कैसे चमत्कारी बना सकते हैं? आइए, ऐसे 5 तरीकों के बारे में जानें –

 

1.दिन में आने वाले हर थॉट को प्योर, पॉजिटिव और शक्तिशाली बनाएं- हमारे विचार ही हमारी सबसे बड़ी पूंजी हैं, जो समय को महत्त्वपूर्ण बनाते हैं क्यूँकि जब हम अपने हर विचार में, अच्छाइयों और ताकत का अनुभव करते हैं और दूसरों को भी उसका अनुभव कराते हैं, तब हम पॉजिटिविटी के चमत्कार क्रिएट करते हैं और उन्हें हम अपने कार्यों और संबंधो में भी अनुभव कर सकते हैं। ये चमत्कार हमारे साथ-साथ, दूसरों के जीवन को भी सुंदर बनाते हैं।

 

2.हर पल को परमात्मा के प्यार और समीपता से भरें- हमारे जीवन के हर पल की सुंदरता तब बढ़ जाती है जब हम परमात्मा का साथ महसूस करते हैं और उनसे बात करते हैं और साथ ही, दूसरों को भी अपने वायब्रेशन, बोल और कार्यों से वैसा ही अनुभव कराते हैं। निरंतर सफलता और खुशी के लिए परमात्मा के साथ का अनुभव हमारे लिए बहुत आवश्यक है।

 

3.आत्मिक अवेयरनेस से चमत्कार क्रिएट  करना- जब हम हर पल, स्वयं को शरीर की अवेयरनेस में गुजारते हैं, तो हम अपने आंतरिक अस्तित्व से संबंध को खो देते हैं और जीवन को ऊपरी तौर पर जीते हैं, जिसके कारण हमारा समय सिर्फ अपने फिजिकल उद्देश्यों की पूर्ति में ही गुजर जाता है और आत्मा को पोषण नहीं मिलता। इसके विपरित, जब हम हर पल आत्मिक चेतना में रहते हैं तब हम अंदर से भरपूर महसूस करते हैं, और अपने हर भौतिक उद्देश्य को असानी से हासिल कर सकते हैं।

 

4.हर एक के चेहरे पर शांति और मुस्कराहट लाना- हर दिन दूसरी आत्माओं की सबसे महत्वपूर्ण सेवा जो हम कर सकते हैं वो है उन्हें शांत और आनंदमय बनाना। हमारे दिन का हर पल कीमती बन जाता है जब हम हमेशा ऐसा ही  हर एक आत्मा; जिनसे हम मिलते हैं, जिनके साथ काम करते हैं और यहां तक कि, उन लोगों के साथ भी जो दूर हैं लेकिन टेक्नोलॉजी और साइंस के माध्यमों द्वारा हमसे जुड़े हुए हैं।

 

5.सकारात्मक कर्मों द्वारा सकारात्मक भाग्य बनाना- हमारा हर पल तब महत्त्वपूर्ण बन जाता है जब हम दिन भर में जो कुछ भी करते हैं वो आत्मा के आध्यात्मिक ज्ञान से, परमात्मा और लॉ ऑफ कर्मा के अनुसार होता है, जिससे न सिर्फ हमारा बल्कि दूसरों का भी पॉजिटिव भाग्य बनता है।

नज़दीकी राजयोग सेवाकेंद्र का पता पाने के लिए